What is FD Account in Hindi | फिक्स्ड डिपॉजिट क्या है और इससे आप पैसे डबल कैसे कर सकते है?

कभी न कभी आपने Fixed Deposit के बारे में जरुर सुना होगा, बिना कुछ किये पैसे डबल करने का ये सबसे आसान तरीका होता है। What is FD Account in Hindi आज के इस ब्लॉग-पोस्ट में आपको बताने वाला हूँ कि फिक्स्ड डिपॉजिट क्या है? कैसे कराया जाता है और इससे आप पैसे डबल कैसे कर सकते है।

What is FD Account in Hindi

What is FD Account in Hindi | फिक्स्ड डिपॉजिट क्या होता है?

जब कोई भी व्यक्ति किसी बैंक में एक Fixed Time के लिए पैसे जमा करता है, तो उसे फिक्स्ड डिपॉजिट यानि FD कहा जाता है। फिक्स्ड डिपॉजिट में जो भी पैसा जमा किया जाता है, उसपर बैंक सेविंग अकाउंट से ज्यादा इंटरेस्ट रेट देते है यानि ब्याज देते है। जैसे कि सेविंग अकाउंट में 3% से लेकर 6% तक का इंटरेस्ट रेट दिया जाता है, जबकि FD और RD Account पर 7% से लेकर 9% तक का इंटरेस्ट दिया जाता है।

आजकल लगभग सभी बैंक FD और RD की सुविधा देते है जैसे कि स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, HDFC बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ़ बड़ौदा, इलाहाबाद बैंक, Axis Bank, बैंक ऑफ़ इंडिया, Yes Bank, RBL Bank इत्यादि। इन सभी बैंकों में फिक्स्ड डिपॉजिट की सुविधा उपलब्ध है, आप इनमे से किसी भी बैंक में अपनी सुविधा के अनुसार एक फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट Open करा सकते है।

Fixed Deposit अकाउंट कैसे Open कराये?

आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों ही तरीको से अप्लाई कर सकते है, ऑफलाइन तरीके से Open कराने के लिए आपको किसी भी ब्रांच में जाना होगा। वहां पर आपको फिक्स्ड डिपॉजिट कराने का फॉर्म मिल जाता है वो फॉर्म भर कर आपको बैंक में जमा करना होता है, इसके बाद आपका फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट Open हो जाता है। आप इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते है।

Fixed Deposit Account के फायदे और नुक्सान क्या है?

इसका सबसे बड़ा फायदा ये है कि इसमें आपका इन्वेस्टमेंट 100% Secure रहता है, इसमें रिस्क का कोई गुंजाइश ही नही होता है। ये किसी भी तरह से लिंक नही होता है जैसे ही आपकी फिक्स्ड डिपॉजिट का Time Period पूरा होता है, वो Mature करता है तो आपका इन्वेस्टमेंट + इंटरेस्ट आपके बैंक खाते में क्रेडिट कर दिया जाता है।

फिक्स्ड डिपॉजिट में दूसरी अच्छी बात ये है कि इसमें आपको सेविंग अकाउंट से ज्यादा इंटरेस्ट रेट दिया जाता है। इसका Negative Point ये है कि फिक्स्ड डिपॉजिट को Mature होने से पहले ही यानि उसका Time पूरा होने से पहले ही अगर आप तोड़ देते है या पैसे निकाल लेते है, तो आपको High Interest Rate नही मिलता है।

जैसे कि मान लीजिये आपने 5 साल के लिए एक फिक्स्ड डिपॉजिट कराया तो अगर आप उसे 6 महीने में ही तोड़ देते है तो बैंक आपसे Penalty यानि जुर्माना भी वसूल करता है और आपको इंटरेस्ट भी काफी कम देते है।

दूसरा Negative Point फिक्स्ड डिपॉजिट का ये है कि अगर आप एक साल में अपनी फिक्स्ड डिपॉजिट से 10 हजार रुपये से ज्यादा इंटरेस्ट कमाते है तो उसपर आपको 10% का टैक्स गवर्नमेंट को देना होता है। फिक्स्ड डिपॉजिट आप किसी भी बैंक, Financial Institute या पोस्ट ऑफिस में Open करा सकते है।

Fixed Deposit से आप अपने पैसे को डबल कैसे कर सकते है?

जैसे कि मैंने आपको बताया कि फिक्स्ड डिपॉजिट में आपको इंटरेस्ट मिलता है और इंटरेस्ट से ही आपके पैसे बढ़ते है और उसी से डबल भी होते है। आपका पैसा कितने दिनों में डबल होगा ये आपके बैंक पर निर्भर करता है कि वे आपको कितना इंटरेस्ट रेट दे रहे है।

आपका बैंक आपको जो भी इंटरेस्ट रेट दे रहा है उसे आपको 72 से Divide करना है यानि विभाजित करना है, जो Result आता है उतने ही साल तक अगर आप फिक्स्ड डिपॉजिट करते है तो उसमे आपका पैसा डबल हो जाता है।

उदाहरण के लिए मान लीजिये आपका बैंक आपको 9% का इंटरेस्ट रेट दे रहा है तो आप 72 को Divide करेंगे 9 से तो Result आयेगा 8, यानि आपका पैसा 9% के इंटरेस्ट रेट से 8 साल में डबल हो जायेगा। जैसे कि अगर आप 5 लाख रुपये का फिक्स्ड डिपॉजिट करते है 8 सालो के लिए तो 8 साल बाद आपको 10 लाख रुपये मिलेंगे।

कुछ महत्वपूर्ण बाते जो आपको FD कराते समय ध्यान में रखने चाहिए :-

बैंकों में आपका पैसा 100% Secure नही होता है, बैंक में आपके जितने भी पैसे जमा होते है उसमे से सिर्फ 1 लाख रुपये की ही सरकार की गारंटी होती है। अगर बैंक का दिवालिया हो जाता है तो आपको 1 लाख रुपये मिलने की गारंटी है और बाकी का पैसा आपका Loss हो जाता है।

इसी तरह से अगर आप बैंक में 5 लाख रुपये की फिक्स्ड डिपॉजिट करा रहे है तो उसमे आपके 1 लाख रुपये Secure होते है जबकि अगर उस बैंक का दिवालिया निकल जाता है तो आपको बाकी के पैसे नही मिलेंगे। इसका Solution ये है कि अगर आप 1 लाख रुपये से ज्यादा का फिक्स्ड डिपॉजिट करा रहे है तो आप किसी एक बैंक में ना करा कर 4-5 अलग-अलग बैंकों में करिये।

इसका एक फायदा तो आपको ये होगा कि आपका पैसा पूरी तरह से Secure रहेगा। दूसरा फायदा ये होगा कि अगर आपको कभी पैसो की जरुरत पड़ेगी तो आपको सभी फिक्स्ड डिपॉजिट को तोड़ने की जरुरत नही पड़ेगी आप किसी एक फिक्स्ड डिपॉजिट को तोड़कर उससे अपना काम चला सकते है।

दोस्तों आज आपने जाना कि फिक्स्ड डिपॉजिट क्या होता है, कैसे कराया जाता है और इससे पैसे डबल कैसे करते है। अगर आपको What is FD Account in Hindi इस पोस्ट में दी गयी जानकारी से संतुष्ट है तो कृपया इसे Share जरुर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *