UPI Payment क्या है? कैसे इस्तेमाल करे, क्या है इसके फायदे और नुक्सान

भारत ने Unified Payment Interface (UPI) के starting के साथ एक cashless economy प्राप्त करने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है। नया Payment model आपको अपने smartphone को virtual debit card के रूप में use करने की permission देता है। इसने तत्काल पैसे भेजने और रिसीव करने को भी possible बनाया है।

QR Code के concept ने Digital Wallet के इस्तेमाल को पूरी तरह से eliminate कर दिया, अब हमें अलग-अलग कंपनी के डिजिटल वॉलेट की कोई जरुरत नहीं है।

what is upi in hindi

अगर आप इतना लम्बा पोस्ट पढ़ने में बोर हो जाते है तो ये इंटरेस्टिंग Podcast सुन सकते है।

What is UPI?

UPI एक single platform है जो एक ही छत के नीचे बहुत सारे various banking services और सुविधाओं को मिलाता है। पैसे भेजने और रिसीव करने के लिए एक UPI ID और PIN ही काफी है। Real time bank to bank पेमेंट मोबाइल नंबर या UPI ID का इस्तेमाल करके किया जा सकता है।

Who Created UPI?

UPI National Payments Corporation of India (NPCI) द्वारा Reserve Bank of India (RBI) और Indian Bank Association (IBA) के साथ मिलकर एक पहल है। NPCI वो फर्म है जो RuPay payment infrastructure को संभालती है, RuPay कार्ड Visa और MasterCard के जैसा ही है। ये विभिन्न बैंको को फंड को इंटरकनेक्ट और ट्रान्सफर करने की permission देता है। Immediate Payment Service (IMPS) भी NPCI की एक पहल है, इस कारण UPI को IMPS का advanced version माना जाता है।

UPI ID kya hota hai?

एक UPI ID किसी बैंक अकाउंट के लिए एक Unique Identification है, जिसका इस्तेमाल पैसे भेजने और रिसीव करने के लिए किया जाता है। UPI PIN 4 से 6 digit का हो सकता है अलग-अलग बैंको के एप्प में।  

यू.पी.आई. पिन का इस्तेमाल रुपये के ट्रांसफर को authorize करने के लिए किया जाता है। पिन को अकाउंट होल्डर खुद ही Create कर सकते है जैसे ATM की पिन नंबर create करते है, ठीक वैसे ही लेकिन UPI के मोबाइल एप्प में।

How does UPI work?

UPI ने money transfer process को बहुत आसान बना दिया है। आपको रिसीवर का account number, account type, IFSC और बैंक का नाम याद नहीं रखना होगा। इसके बजाय आप उनके UPI ID, मोबाइल नंबर या आधार कार्ड नंबर पर भी पैसे का ट्रांसफर कर सकते है।

मार्केट में बहुत सारे UPI service enabled एप्स है, आप इनमे से किसी का भी इस्तेमाल कर सकते है। सभी बैंको के अपने UPI apps भी available है play store में, आपका जिस भी बैंक में अकाउंट है आप उस बैंक का यू.पी.आई. एप्प इनस्टॉल करें या आप National Payments Corporation of India (NPCI) की ऑफिसियल BHIM एप्प को भी इनस्टॉल कर सकते है।

अधिकतर एप्प में by default आपका UPI ID आपके मोबाइल नंबर के साथ शुरू होता है और उसके बाद @ का sign होता है और फिर उस कंपनी या बैंक का नाम होता है जिस एप्प को आप Use कर रहे है, बिलकुल email id की तरह। जैसे अगर आप BHIM एप्प use करते है तो आपका UPI ID कुछ इस तरह होगा-

9852xxxxxx@upi

और अगर आप किसी बैंक का एप्प use कर रहे है तो आपका UPI ID कुछ इस तरह होगा-

9852xxxxxx@sbi

9852xxxxxx@kotak

9852xxxxxx@axisbank

9852xxxxxx@icici

बाद में आप अपना UPI ID change कर सकते है, मोबाइल नंबर की जगह आप अपना नाम use कर सकते है लेकिन @ के बाद वही रहेगा जिस भी एप्प को आप use कर रहे है।

उसके बाद BHIM एप्प में अपने बैंक अकाउंट की डिटेल्स भर के submit करें। बैंको के UPI एप्प में इस स्टेप की कोई जरुरत नहीं है। ये sure करने के लिए की आप ही उस बैंक अकाउंट के authorised holder है BHIM एप्प आपके उस मोबाइल नंबर पर एक OTP भेजेगा जो बैंक से लिंक है।

OTP को एंटर करने के बाद आप UPI ID के लिए PIN सेट कर सकते है। रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा होने के बाद आप अपने contacts में से किसी भी मोबाइल नंबर पर पैसे भेज सकते है या आप उन्ही contacts में से किसी को request money भी कर सकते है। इसमें कंडीशन सिर्फ इतना है की आप जिसे पैसे भेजना चाह रहे है उनका मोबाइल नंबर UPI या उनके बैंक अकाउंट से लिंक होना चाहिए।

What are the features and benefits of using UPI?

  • ऑनलाइन पेमेंट पहले से ज्यादा Simple और सरल हो गया है।
  • आप अपनी दैनिक जरूरतो वाली सर्विसेज जैसे food delivery services और shopping sites पर UPI पेमेंट से instant फण्ड ट्रांसफर कर सकते है।
  • आपके नजदीकी रेस्टूरेंट, किराने की दुकान और डिपार्टमेंटल स्टोर्स पर ऑनलाइन पेमेंट कर सकते है।
  • रेंट, मोबाइल रिचार्ज और यूटिलिटी बिल का पेमेंट तुरंत ऑनलाइन किया जा सकता है।
  • 24X7 इसमें ट्रांसक्शन कर सकते है, वहीं NEFT और RTGS में 24 से 48 घंटे लगते है वो भी working hours में।

Kya ye secure hai?

UPI transactions highly secure encryption format का इस्तेमाल करते है जिससे छेड़-छाड़ करना आसान नहीं है। NPCI का IMPS नेटवर्क हर दिन लगभग Rs.8000 करोड़ के ट्रांसक्शन को संभालता है, जिसे UPI टेक्नोलॉजी के साथ तेजी से बढ़ने की उम्मीद है।

ये हर ट्रांसक्शन की वेरिफिकेशन के लिए Two-factor Authentication method का इस्तेमाल करता है जो OTP के समान है। हालाँकि ट्रांसक्शन की validation के लिए OTP के जगह UPI PIN का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।

Which apps allow UPI services?

हर दिन कई नए एप्स आ रहे है जो UPI पेमेंट को सपोर्ट करते है। कुछ एप्प जो बहुत पॉपुलर है UPI पेमेंट करने के लिए जैसे Google Pay, PhonePe, BHIM इत्यादि। ट्रांसक्शन शुरू करने से पहले आपको एप्प पर UPI ID generate करना होगा जिसके लिए आपको अपनी बैंक की डिटेल्स वेरीफाई करानी होगी।

Which Banks allow UPI services?

आज की तारीख में लगभग सभी बैंक UPI Services देती है, UPI ट्रांसक्शन को allow करती है। UPI सर्विसेज इनेबल्ड कुछ बैंको की लिस्ट-

  • Allahabad Bank
  • Andhra Bank
  • Axis Bank
  • Bank of Baroda
  • Bank of India
  • Bank of Maharashtra
  • Canara Bank
  • Central Bank of India
  • DCB Bank
  • Federal Bank
  • HDFC Bank
  • ICICI Bank
  • IDFC Bank
  • IndusInd Bank
  • Karnataka Bank
  • Kotak Mahindra Bank
  • Oriental Bank of Commerce
  • Punjab National Bank
  • South Indian Bank
  • State Bank of India
  • UCO Bank
  • Union Bank of India
  • United Bank of India
  • Vijaya Bank

उम्मीद है UPI पेमेंट से जुडी इस पोस्ट से आपको कुछ नया सीखने को मिला होगा और आपके कुछ doubts क्लियर हुए है। पसंद आने पर दोस्तों के साथ शेयर भी करे ताकि उन्हें भी UPI पेमेंट के फायदों के बारे में पता चल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *